Posts

Featured Post

पंच नाम जूना अखाड़े की शाही पेशवाई मे भव्य झाँकियों, बैंड बाजों और हेलीकॉप्टर से फूल बरसाए

Image
  नागा सन्यासियों के सबसे बड़े अखाड़े श्रीपंचदशनाम जूना अखाड़े की शाही पेशवाई पारम्परिक अंदाज में पूजा अर्चना के बाद निकाली गयी। पेशवाई में भव्य झाॅकियों,बैण्डबाजों के अलावा हेलीकाॅप्टर से फूलों की वर्षा आकर्षण के केन्द्र रहे। इस बार की पेशवाई में किन्नर अखाड़े के महामण्डलेश्वर भी शामिल है। पेशवाई में लोगों का आर्कषण किन्नर अखाड़़े के संत महामण्डलेश्वर रहे। कोविड निमयों के कारण सीमित दायरा होने के बावजूद बृहस्पतिवार को श्री पंच दशनाम जूना व अग्नि अखाड़े तथा किन्नर अखाड़े की पेशवाई शाही अंदाज में हर्षोल्लास व धूमधाम के साथ भव्य पेशवाई निकाली गयी। अखाडे के इष्टदेव भगवान दत्तात्रेय की पूजा अर्चना के बाद निकाली गयी पेशवाई में सबसे आगे जूना पीठाधीश्वर स्वामी अवेधशानंद महाराज का रथ चल रहा था,उनके पीछे महामण्डलेश्वरों के अलावा श्रीमहंतो,महंतो के रथ पेशवाई को आकर्षक बना रहा थौ। शाही अंदाज में निकली पेशवाई में जूना पीठाधीश्वर आचार्य महामण्डलेश्वर स्वामी अवधेशानंद गिरी, अखाड़ा परिषद के महामंत्री व जूना अखाड़े के अंर्तराष्ट्रीय संरक्षक श्रीमहंत हरिगिरी, सभापति श्रीमहंत प्रेमगिरि,सचिव श्रीमहंत महेश पुरी, स

जिलाधिकारी संग एसएसपी ने किया स्थानीय भ्रमण कोविड-19 पालन कराने के निर्देश

 माघ पूर्णिमा स्नान पर्व पर गंगा स्नान को आये श्रद्धालुओं से कोविड सुरक्षा नियमों का पालन सभी जोनल और सैक्टर मजिस्ट्रेटों ने सख्ती से कराया। प्रशासनिक इंतजामों का जायजा लेने के लिए स्वयं जिलाधिकारी ने भी स्थलीय भ्रमण किया और व्यवस्थाओं को परखा। डीएम ने वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक के साथ हरकी पैड़ी सहित अन्य घाटों का स्थलीय निरीक्षण किया।  जोनल और सैक्टर मजिस्ट्रेट व स्वंय सेवी संस्था कार्यकर्ताओं व सभी मजिस्ट्रेटों ने कोविड गाइड लाइन तथा कोविड एप्रोप्रिएट बिहेयवर का पालन स्नान पर्व पर लोगों से कराया। अधिकारियों व स्वयं सेवी संस्थाओं ने लोगों को जागरूक किया, जो यात्री बिना मास्क पाये गये स्वंय सेवियों ने उनको मास्क पहनाये। लोगों को आपस में दूरी रखन,े एक जगह भीड़ न जुटाने के लिए प्रचार किया गया। स्नान को आये श्रद्धालुओं ने भी प्रशासन का सहयोग करते हुए सुरक्षा उपायों को अपनाया। सुरक्षा के दृष्टिगत मंडावर चैक पोस्ट, नारसन बार्डर, गोकुलपुर बार्डर, वीरपुर झबरेड़ा बाॅर्डर, काली नदी, श्यामपुर आदि बाॅर्डर व चैक पोस्ट आदि पर स्वास्थ्य विभाग की टीमों द्वारा बड़ी संख्या में कोरोना की रैंडम जांच, सैंपलिंग, थर

एक मार्च को होगा राष्ट्रीय विज्ञान दिवस कार्यक्रम का आयोजन

 राष्ट्रीय  विज्ञान दिवस 2021 कार्यक्रम  के जनपद  समन्वयक सुभाष चन्द्र शर्मा ने बताया कि बाल मंदिर सीनियर सेकेंडरी स्कूल सेक्टर 1 हरिद्वार में यूकोस्ट के तत्वावधान में राष्ट्रीय विज्ञान दिवस 1 मार्च 2021को  मनाया जा रहा है जिसका मुख्य विषय विज्ञान, तकनीक और नवाचार :शिक्षा स्किल और कार्य पर प्रभाव (STI:impact on education, skil and work) उन्होने बताया कि 28 फरवरी 1928 को भारत के महान  भौतिक विज्ञान के वैज्ञानिक सी वी  रमन ने रमन प्रभाव  की  खोज की  थी जिसके लिये उन्हें प्रतिष्ठित नोबल पुरस्कार प्रदान किया गया। इस  दिन की  स्मृति में भारत  सरकार द्वारा राष्ट्रीय विज्ञान दिवस मनाने की घोषणा  1986 में  की गई तभी  से  प्रतिवर्ष राष्ट्रीय विज्ञान दिवस  मनाया जाता है इस बार हरिद्वार जनपद में उक्त विषय पर ड्राइंग कंपटीशन और एक विज्ञान क्विज प्रतियोगिता करवाई जाएगी जिसमें जूनियर और सीनियर 2 वर्ग होंगे कक्षा 9 तक के विद्यार्थी जूनियर वर्ग में तथा कक्षा 10, 11 और 12 के विद्यार्थी सीनियर वर्ग में भाग लेंगे  इसके साथ  इसी विषय पर एक विज्ञान सेमिनार भी कराया जाएगा जिसमें  छात्र विज्ञान  तकनीक और नवा

आज कलेक्ट्रेट सभागार में स्कूल एडोपशन प्रोग्राम के‌ सम्बंध में जिलाधिकारी की अध्यक्षता में बैठक

Image
 जिलाधिकारी हरिद्वार श्री सी रविशंकर ने आज कलेक्ट्रेट सभागार में गवर्मेंट स्कूल एडोप्शन प्रोग्राम के सम्बंध में एक बैठक सीएसआर सहभागियों के साथ की। बैठक के माध्यम से जिलाधिकारी ने सभी औद्योगिक इकाईयों के प्रतिनिधियों को सरकार की इस महत्वपूर्ण योजना की विस्तार से जानकारी दी और इस पर इण्डस्ट्रीज के सुझाव भी आमंत्रित किये। डीएम ने योजना को स्पष्ट करते हुए कहा कि इण्डस्ट्रीज अपनी सीएसआर मद से जिले में विभिन्न शेक्षणिक संस्थाओं में योगदान देती आ रही है किन्तु जीसेप का मकसद किसी औद्योगिक इकाई की स्वेच्छा से अपने सीएसआर लक्ष्य के अनुसार स्कूलों की संख्या का चयन कर स्वतंत्र रूप् से स्कूल को माॅर्डन स्कूल के रूप् में परिर्वतन करना है। जितने भी स्कूलों का चयन कम्पनी करेगी उस कम्पनी को पूरा अधिकार होगा कि वह उसमें बिना किसी सरकारी विभाग को धनराशि हस्तांतरित कये एक स्तरीय और एकरूप संसाधनों को स्थापित कर सके। जिसमें सरकारी मद और अन्य कम्पनी के सहयोग से कार्यो में डुप्लीकेसी न हो सके। इन कार्यो के मेंटिनेंस एवं देखरेख की अवधि भी एग्रीमेंट के तहत कम्पनी के साथ तय की जायेगी। शिक्षा विभाग और इण्डस्ट्री

हरिद्वार वासियों की परेशानी कौन सुनेगा ?

Image
 बड़े बड़े गड्डो में तब्दील क्षतिग्रस्त गलियों ,उखड़ी सड़को से परेशान  हरिद्वारवासी - सुनील सेठी ।।                                                                        महानगर व्यापार मंडल के जिलाध्यक्ष सुनील सेठी के नेतृत्व में महानगर व्यापार मंडल के कार्यकर्ताओ द्वारा शहर की टूटी गलियों के निर्माण एवं पूर्व में बनी सड़को की गुणवत्ता की जांच की मांग को लेकर सिटी मजिस्ट्रेट के माध्यम से उत्तराखण्ड के मुख्यमंत्री को ज्ञापन भेजा। महानगर व्यापार मंडल के जिलाध्यक्ष सुनील सेठी ने कहा कि कुंभ मेला सिर पर है लेकिन वार्ड मोहल्लों की अधूरी सड़को के निर्माण कार्य पूरे नही हुए  भूमिगत लाइनों के कार्य पूरे नही हुए टूटी सड़को के कार्य पूरे नही हुए यहां तक सबसे मुख्य पथ प्रकाश की व्यवस्था बिल्कुल फेल है ऐसे लापरवाह विभागों पर कार्यवाही होनी चाहिए । जो कार्य हुए है उनकी गुणवत्ता की जांच होनी  कुंभ से पूर्व सभी कार्य पूरे हो जाने चाहिए थे लेकिन अधूरे कार्य जनता को परेशान कर रहे है   टूटी गलियों में राहगीर चोटिल हो रहे है  कोई मोनिटरिंग करने वाला नही पूरे शहर की स्ट्रीट लाइटें अभी तक बदली नही गई न ही सड़को क

निकाय चुनाव को टालना चाह रही है राज्य सरकार - राव आ़फाक

पूर्व जिला पंचायत उपाध्यक्ष और वरिष्ठ कांग्रेस नेता राव अफाक अली ने कहा कि पंजाब में पंचायत चुनाव में सूपड़ा साफ होने के बाद उत्तराखंड में काबिज भाजपा सरकार घबरा गई है। सरकार प्रदेश में होने जा रहे निकाय चुनाव को अब किसी भी तरह टालकर यहां हार से बचना चाहती है। मीडिया को जारी बयान में राव अफाक अली ने कहा कि प्रदेश में किस तरह सरकार चुनावों से घबरा रही है। इसका अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि पहले सरकार ने ग्राम और जिला पंचायतों का परिसीमन शुरू कर चुनाव की तैयारी कर ली थी। उसके बाद कैबिनेट में 5 नगर पंचायत बनाने का फैसला जारी कर चुनाव को अग्रिम आदेशों तक टाल दिया। सरकार अब तक तीन बार परिसीमन की घोषणा कर चुकी है। लेकिन चुनाव नहीं करा रही है। सरकार ने बुधवार को फिर एक बार नगर पंचायतों की घोषणा की। सरकार जिस तरीके से अपने हित को देखते हुए परिसीमन कर रही है उससे जिले की जनता को घोर आपत्ति है। एक गांव को कई कई भागों में बांट दिया गया है। एक गांव को दो-दो बीडीसी में बांटकर मजाक किया जा रहा है।

हालात ऐसे ही रहे तो व्यापारी कर सकते हैं बाजार बंदी का ऐलान?

Image
  सभी संगठनो से व्यापरिहित में एक मंच पर आने की अपील व्यापार मंडल के पदाधिकारियों ने सँयुक्त रुप से बैठक कर सरकार की नीतियों पर विरोध जताया महानगर व्यापार मंडल के जिलाध्यक्ष सुनील सेठी, प्रांतीय व्यापार मंडल के महामंत्री संजय त्रवाल और प्रदेश व्यापार मंडल के जिलाध्यक्ष शिवकुमार कश्यप ने सँयुक्त रूप से कहा कि आज व्यापारी वर्गी की कगार पर खड़ा है उसे कोई राहत देने की बजाय विनम्र की अवधि बी दी गई है। लोकडॉन न होते हुए हरिद्वार में लोकडॉन जैसी स्तिथि बना दी गई लेकिन सरकार कुम्भकर्णी नींद में सोई हुई है व्यापार बर्बादी की कगार पर पोहचेद है छोटे से बड़ा चरित्र आज त्रस्त है जो आने वाले समय हरिद्वार व्यापार विरोधी सरकार को जवाब देंगे। यवपारी नेताओ ने कहा कि जब कुंभ करवाना ही नहीं था तो करोड़ो रूपये के बजट डालकर जनता के पैसों का दुरुपयोग क्यो किया गया। अब अभी भी अस्थाई कार्य जारी है सीधी सीधी जनता के पैसों की बर्बादी कर कुंभ को सीमित किया गया है। अगर होने थे तो स्थायी कार्य होने चाहिए थे जिसका फायदा हरिद्वार की जनता को मिलता है। कोरोना सिर्फ हरिद्वार पर ही क्यों बड़ी बड़ी रैलियों आयोजनों पर कोर