शिक्षा ,स्वास्थ्य ,खाद्य सुरक्षा को कांग्रेस घोषणा पत्र में शामिल करो - राव आफाक

 चुनाव संचालन समिति के अध्यक्ष पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत व लोकप्रिय प्रदेश अध्यक्ष गणेश गोदियाल से मिलकर जिला पंचायत के पूर्व अध्यक्ष राव आफाक अली ने जनहित में तीन सुझााव घोषणा पत्र में शामिल करने हेतु दिए। जिन्हें दोनों नेताओं ने प्राथमिकता के आधार पर शामिल करने का भरोसा दिलाया। राव आफाक अली ने कहा कि खाद्य सुरक्षा के नए राशन कार्ड नहीं बन पा रहे हैं। जो राशन कार्ड बने हुए हैं। उनमे से आधे आॅनलाईन नहीं है। 2011 की जनगणना के आधार पर शहरी क्षेत्र में 50 प्रतिशत व ग्रामीण क्षेत्र में 75 प्रतिशत 15 हजार रूपए प्रतिमाह से कम की आय के लोगों के कार्ड बनने थे। परंतु 2021 तक भी यह समस्या जस की तस बनी हुई है। राशन कार्ड ना होने की वजह से लोगों के आयुष्मान कार्ड भी नहीं बन पा रहे हैं। साथ ही प्रति यूनिट के हिसाब से राशन भी नहीें मिल पा रहा है। क्योंकि वर्षो से सरकार ने साईट ही बंद कर रखी है। बीच में एक माह के लिए साईट खुली थी तो जिसमें हजारों यूनिट डिलीट कर दी गयी हैं। बहुत से विधवा, विकलांग व बुजुर्ग राशन कार्ड बनवाने के लिए सरकारी दफ्तरो के चक्कर काट रहे हैं। जिन लोगों का आयुष्मान कार्ड बना हुआ है। उन्हें ओपीडी व विभिन्न प्रकार की जांच में पैसा लिया जा रहा है। केवल गंभीर बीमारियों में ही आयुष्मान कार्ड का लाभ दिया जा रहा है। हमारी सरकार बनने पर ओपीडी व तमाम तरह की जांचें तथा दवाईयां निःशुल्क दी जाएं। शिक्षा के क्षेत्र में समानता नहीं है। इसलिए सभी मान्यता प्राप्त स्कूलों में सभी वर्गो से बीपीएल श्रेणी के एक तिहाई बच्चों को प्रवेश देना अनिवार्य किया जाए। जो मान्यता प्राप्त स्कूल इसमें लापरवाही करें। उसकी मान्यता रद्द की जाए। बीपीएल श्रेणी के बच्चों की पढ़ाई का समस्त खर्च सरकार व स्कूल मिलजुल कर वहन करे। ताकि सभी को शिक्षा के समान अवसर प्राप्त हो सकें। प्रतिनिधिमण्डल में रोशनलाल, राव फरमान अली, दिलशाद खान, कैलाश प्रधान, बुला चैधरी, निजाम पठान, राव हामिद अली, राव शाहबाज अली एडवोकेट शामिल रहे। 

Popular posts from this blog

पंच नाम जूना अखाड़े की शाही पेशवाई मे भव्य झाँकियों, बैंड बाजों और हेलीकॉप्टर से फूल बरसाए

जूना अखाड़ा घाट के सौन्दर्यीकरण हेतु त्रिशूल लगेगा

जिलाधिकारी संग एसएसपी ने किया स्थानीय भ्रमण कोविड-19 पालन कराने के निर्देश