जूना अखाड़ा घाट के सौन्दर्यीकरण हेतु त्रिशूल लगेगा



हरिद्वार। उत्तराखण्ड के मा0 मुख्यमंत्री श्री पुष्कर सिंह धामी का रविवार को श्रीनिरंजनी अखाड़ा, हरिद्वार में, अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष व श्रीनिरंजनी अखाड़े के सचिव श्रीमहन्त रविन्द्रपुरी और अखाड़ा परिषद के राष्ट्रीय महामंत्री श्रीमहन्त हरिगिरि, जगतगुरू राजराजेश्वराश्रम, निरंजन पीठाधीश्वर कैलाशानन्द गिरि,  आनन्द पीठाधीश्वर महामण्डलेश्वर बालकानन्द गिरि, जूना अखाड़ा के सभापति प्रेम गिरिजी, आह्वान आखाड़े के श्रीमहन्त सत्य गिरि, नया अखाड़ा उदासीन के श्रीमहंन्त भगतराम जी, श्रीमहन्त नारायण गिरि, महामण्डलेश्वर ललितानन्द गिरिजी महाराज ने निरंजनी अखाड़े में आयोजित एक समारोह में शाॅल ओढ़ाकर, विशालकाय माला पहनाकर तथा प्रतीक चिह्न व गंगाजलि भेंटकर भव्य अभिनन्दन व स्वागत किया गया तथा मा0 मुख्यमंत्री ने उपस्थित सभी सन्तों का आशीर्वाद प्राप्त किया। 

समारोह को सम्बोधित करते हुये मुख्यमंत्री श्री पुष्कर सिंह धामी ने जूना अखाड़ा दुःख हरण मन्दिर, जूना अखाड़ा घाट में सौन्दर्यीकरण और यहां की धार्मिक मान्यताओं की स्थापना हेतु एक त्रिशूल लगाने की घोषणा की। 

मा0 मुख्यमंत्री ने समारोह में देवस्थानम बोर्ड का जिक्र करते हुये कहा कि विभिन्न सन्तों, हक-हकूक, तथा धार्मिक संगठनों द्वारा देवस्थानम बोर्ड को वापस लेने या इसमें बदलाव लाने की मांग की जा रही थी, जिसके लिये श्री मनोहर कान्त ध्यानी के नेतृत्व में कमेटी गठित की गयी थी तथा मंत्रिमण्डल की उप समिति ने भी अपनी रिपोर्ट प्रस्तुत की। उन्होंने कहा कि हम निश्चित रूप से जो भी फेैसला करेंगे सबकी भावनाओं के अनुसार करेंगे। उन्होंने कहा कि पूज्य सन्तों की यही भावना थी। उन्होंने कहा कि इस समय सबके हित में, मुख्य सेवक के रूप में, देवस्थानम बोर्ड को वापस लेने का निर्णय लिया। 

श्री पुष्कर सिंह धामी ने कहा कि जब हम उत्तराखण्ड की 25वीं वर्षगांठ मनायेंगे, उस समय उत्तराखण्ड हर क्षेत्र में देश का अग्रणी राज्य होगा। इसके लिये हम सभी के विचार आमंत्रित कर रहे हैं तथा अगले 10 सालों का रोडमैप सभी विभागों से मांगा है।

मा0 मुख्यमंत्री ने कहा कि मैंने अभी तक 500 से अधिक फैसले लिये हैं। उन्होंने कहा कि मैं जिस योजना की भी घोषणा करता हूं, उसका शासनादेश भी तुरन्त जारी होता है। उन्होंने कहा कि हमने हर क्षेत्र में फैसले लिये हैं तथा हम चाहते हैं कि हर क्षेत्र का सम्पूर्ण विकास हो। पर्यटन का जिक्र करते हुये उन्होंने कहा कि उत्तराखण्ड में जहाज को खड़ा करने के लिये पहले 20 प्रतिशत वैट लगता था, जिसे हमने कम करके दो प्रतिशत कर दिया है, जिससे उत्तराखण्ड आने वाले लोगों को काफी सुविधा होगी। 

श्री पुष्कर सिंह धामी ने कल देहरादून में आयोजित मा0 प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के कार्यक्रम का उल्लेख करते हुये कहा कि प्रधानमंत्री ने उत्तराखण्ड के चैमुखी विकास लिये 18 हजार करोड़ की विभिन्न योजनाओं का शिलान्यास व लोकार्पण किया। 

मंच का संचालन एस0एम0जे0एन0 काॅलेज के प्रधानाचार्य श्री सुनील बत्रा ने किया। 

इस अवसर पर भाषा, पुनर्गठन, गन्ना विकास एवं चीनी उद्योग तथा ग्राम्य विकास मंत्री श्री यतीश्वरानन्द, किच्छा विधायक श्री राजेश शुक्ला, पूर्व सांसद श्री बलराज पासी, जिला अध्यक्ष भाजपा डाॅ0 जयपाल सिंह, जिला महामंत्री भाजपा श्री विकास तिवारी, गंगा सभा के अध्यक्ष प्रदीप झा, महामंत्री श्री तन्मय वशिष्ठ सहित पुलिस व प्रशासन के सम्बन्धित अधिकारीगण उपस्थित थे। 

............................

Popular posts from this blog

पंच नाम जूना अखाड़े की शाही पेशवाई मे भव्य झाँकियों, बैंड बाजों और हेलीकॉप्टर से फूल बरसाए

एक मार्च को होगा राष्ट्रीय विज्ञान दिवस कार्यक्रम का आयोजन

जिलाधिकारी संग एसएसपी ने किया स्थानीय भ्रमण कोविड-19 पालन कराने के निर्देश