जेल से रंगदारी मांगने के मामले में गैंगस्टर भूरा टिहरी जेल शिफ्ट

जेल से कैदी की पत्नी को फोन कर रंगदारी मांगने के मामले में सोमवार को गैंगेस्टर इंतजार पहलवान उर्फ भूरा को टिहरी जेल शिफ्ट कर दिया गया। वहीं, जेल में दूसरे दिन भी अभियान चलाकर बैरकों की तलाशी ली गई। प्रभारी जेल अधीक्षक ने दिन में कई मर्तबा बैरकों का दौरा किया। पुरकाजी मुजफ्फरनगर निवासी गैंगेस्टर इंतजार पहलवान उर्फ भूरा तीन साल से जिला कारागार में बंद था। दिल्ली में सर्राफा का काम करने वाला गुरुग्राम निवासी वैभव बंसल करीब 20 दिन पहले एक करोड़ की धोखाधड़ी में गिरफ्तार होकर जेल पहुंचा। आरोप है कि गैंगेस्टर इंतजार पहलवान उर्फ भूरा ने पहले वैभव बंसल को धमकाते हुए घर से पैसे मंगाने को कहा। इसके बाद वैभव की पत्नी मीनाक्षी को कॉल कर रंगदारी के तौर पर सोने की चेन मांगी। शिकायत पर डीजीपी के निर्देश पर एसटीएफ व हरिद्वार की पुलिस टीम ने जाल बिछाते हुए इंतजार व उसके साथी नाहिद के कहने पर मीनाक्षी से चेन लेने पहुंचे परवेज और साहिल निवासी बहादराबाद को गिरफ्तार कर लिया था। वहीं टीम ने जेल में छापा मारकर दो मोबाइल, दो सिम और एक चार्जर बरामद किया था। आइजी एपी अंशुमान ने तत्काल प्रभाव से दो वार्डनों को निलंबित कर जांच बैठा दी है। आइजी ने गैंगेस्टर इंतजार को जल्द हरिद्वार कारागार से शिफ्ट करने के निर्देश भी दिए। प्रभारी जेल अधीक्षक एसएम सिंह ने तीन बार पूरी जेल का दौरा करते हुए कैदियों व बंदियों को हिदायत दी कि गैर कानूनी गतिविधियां संचालित करने पर कार्रवाई की जाएगी। वही दूसरी ओर जेल में हुई ताजा घटनाक्रम को देखते हुए आइजी जेल एपी अंशुमान ने जल्द ही अधीक्षक की तैनाती के निर्देश दिए हैं। 


Popular posts from this blog

कल शनिवार और रविवार को लॉकडाउन में कौन - कौन संस्थान खुलेंगे ?, गाइडलाइन जारी

हरिद्वार आने वालो के लिए नई गाइडलाइन जारी, पर्यटकों को अनावश्यक रूप से ना रोका जाए - जिलाधिकारी

ब्रेकिंग न्यूज-कोरोना चार सौ पार