पीड़िता को न्याय दिलाने के लिए किसान कांग्रेस ने निकाला कैंडल मार्च


 

  दुष्कर्म और हत्या के मामले में पीड़िता को न्याय दिलाने के लिए के किसान कांग्रेस कमेटी के प्रदेश अध्यक्ष सुशील राठी के नेतृत्व में ऋषिकुल से शंकराचार्य चैक तक कैंडल मार्च निकाला गया। इस दौरान पीड़िता को श्रद्धांजलि देने के साथ अपराधी को तत्काल फांसी देने की मांग की। प्रदेश अध्यक्ष सुशील राठी ने कहा कि प्रदेश में बालिकाएं सुरक्षित नहीं है। ऋषिकुल की घटना हृदयविदारक है। ऐसी घटना को अंजाम देने वालों को बख्शा नहीं जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि आरोपियों के खिलाफ फास्ट ट्रैक कोर्ट में मुकद्मा चलाकर जल्द से जल्द फांसी पर लटकाया जाए। सुशील राठी ने कहा कि पूरे समाज को झकझोर देने वाली इस घटना को लेकर सरकार संवेदनशीलता दिखाते हुए पीड़ित परिवार को जल्द से जल्द न्याय दिलाए। उन्होंने कहा कि बालिकाओं को सुरक्षा प्रदान करने के लिए पुलिस को रणनीति के तहत काम करना चाहिए। जिलाध्यक्ष दिनेश वालिया व सुंदर मनवाल ने कहा कि ऐसी घटनाएं दोबारा ना हों। इसके लिए सरकार कड़े कदम उठाए। देश भर में महिलाओं के प्रति बढ़ रहे अपराधों पर लगाम लगायी जाए। ऐसे अपराधियों को संरक्षण देने वाले राजनीतिक चेहरों को भी बेनकाब किया जाना चाहिए। रुड़की जिलाध्यक्ष सेठ परमार पाल ने कहा कि सर्वसमाज बालिका के हत्यारों को फांसी देने की मांग कर रहा है। ऐसे में सरकार को जनता जनार्दन के फैसले को अमल में लाना चाहिए। प्रदेश प्रवक्ता राहुल चैधरी ने कहा कि किसान कांग्रेस कमेटी मांग करती है कि आरोपी को चैराहे पर सरेआम फांसी दी जाए। कांग्रेस पार्षद उदयवीर सिंह चैहान ने कहां है कि राज्य में कानून व्यवस्था पटरी से उतर चुकी है। कैडल मार्च निकालने वालों में अनुज सैनी, सुंदर, अमन सिंह, पंकज कटारिया, संसार सिंह, अनुज चैधरी, नरेश, सुचित वालिया, मनोज गोस्वामी, संजय कुमार, डा.प्रदीप, राहुल चैधरी, महेंद्र प्रालिया, अजय नौटियाल, अनुज वालिया, श्याम सुंदर सिंह, यशपाल प्रधान, रोशनी कल्याण आदि सहित बड़ी संख्या में लोग मौजूद रहे।

Popular posts from this blog

कल शनिवार और रविवार को लॉकडाउन में कौन - कौन संस्थान खुलेंगे ?, गाइडलाइन जारी

हरिद्वार आने वालो के लिए नई गाइडलाइन जारी, पर्यटकों को अनावश्यक रूप से ना रोका जाए - जिलाधिकारी

ब्रेकिंग न्यूज-कोरोना चार सौ पार