32 लाख रुपए का एल्युमिनियम हड़पने के मामले में ट्रक चालक और कबाड़ी गिरफ्तार

 सिडकुल की कंपनी से कोलकाता भेजा गया 32 लाख रुपये का एल्यूमीनियम हड़पने की साजिश एक फैक्ट्री मालिक, ट्रक चालक व उसके दोस्त ने मिलकर रची थी। पुलिस ने ट्रक चालक और एक कबाड़ी को गिरफ्तार कर पूरे मामले का पर्दाफाश कर लिया है। करीब 18 लाख रुपये के माल सहित ट्रक भी बरामद कर लिया गया है। पुलिस अब फैक्ट्री मालिक सहित दो आरोपितों की तलाश में जुटी है। सिडकुल की बीएसएल स्काफोल्डिग कंपनी एल्यूमीनियम की शटरिग का सामान बनाती है। कंपनी से एक ट्रक में 15 सितंबर को करीब 32 लाख रुपये की एल्यूमीनियम रॉड भरकर कोलकाता भेजी गई थी। ट्रक को 22 सितंबर को कोलकाता पहुंचना था। लेकिन, ट्रक 22 सितंबर तक भी कोलकाता नहीं पहुंचा। तब कंपनी के प्लांट हैड तमाल साहा ने ट्रक चालक, मालिक और ट्रांसपोर्टर के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया। सिडकुल थानाध्यक्ष लखपत बुटोला व उनकी टीम ने मोबाइल नंबर, सीसीटीवी कैमरे की फुटेज से जानकारी जुटाकर मुखबिर तंत्र की मदद 32 लाख रुपये का माल गायब करने वालों की धरपकड़ के लिए जाल बिछाया। सोमवार को पुलिस टीम ने डैंसो चैक से ट्रक चालक बबलू निवासी दादूपुर गोविदपुर और कबाड़ी वसीम निवासी पठानपुरा मंगलौर को गिरफ्तार कर लिया। पूछताछ में ट्रक चालक बबलू ने बताया कि उसने अपने दोस्त शहजाद निवासी सलेमपुर व सिडकुल की केएफसी कंपनी के मालिक आशीष निवासी दिल्ली के साथ मिलकर माल गायब करने की साजिश रची थी। पुलिस उन्हें लेकर केएफसी कंपनी पहुंची तो पता चला कि काफी एल्यूमीनियम गलाया जा चुका है। पुलिस ने गिरफ्तार आरोपितों की निशानदेही पर करीब सात टन एल्यूमीनियम से लदा ट्रक बरामद किया। उसकी कीमत लगभग 18 लाख बताई गई है। प्रभारी वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक आयुष अग्रवाल व एसपी सिटी कमलेश उपाध्याय ने पुलिस टीम को शाबाशी दी। ढाई हजार रुपये इनाम भी दिया गया है। टीम में सिडकुल थानाध्यक्ष लखपत बुटोला, उपनिरीक्षक राजेश कुमार, उपनिरीक्षक संदीप चैहान, कांस्टेबल सतीश नौटियाल व प्रेम सिंह शामिल रहे।


Popular posts from this blog

कल शनिवार और रविवार को लॉकडाउन में कौन - कौन संस्थान खुलेंगे ?, गाइडलाइन जारी

हरिद्वार आने वालो के लिए नई गाइडलाइन जारी, पर्यटकों को अनावश्यक रूप से ना रोका जाए - जिलाधिकारी

ब्रेकिंग न्यूज-कोरोना चार सौ पार