मृतक वीरेंद्र के स्वजन कहते संविदा कर्मी लेकिन विभाग ने पल्ला झाड़ा

विद्युत लाइन मरम्मत करते करंट लगने से युवक की मौत, परिजनों ने किया हंगामा


 सिडकुल थाना क्षेत्र की सिद्धी विनायक कॉलोनी में बुधवार रात विद्युत लाइन की मरम्मत करने के दौरान करंट लगने से एक युवक की मौत हो गई। इसके बाद युवक के स्वजनों और ग्रामीणों ने बिजली घर के बाहर सड़क पर शव रखकर जमकर हंगामा किया। उन्होंने युवक को संविदाकर्मी बताते हुए ऊर्जा निगम पर लापरवाही का आरोप लगाया। वहीं ऊर्जा निगम ने इससे इनकार करते हुए पूरे मामले से पल्ला झाड़ लिया। पुलिस ने बमुश्किल समझाबुझाकर शव का पोस्टमार्टम कराया। पुलिस के मुताबिक सिडकुल की सिद्धी विनायक कॉलोनी में बुधवार देर शाम लाइट गुल हो गई। लाइन में फाल्ट आने की शिकायत कॉलोनिवासियों ने ऊर्जा निगम से की। इसके बाद विरेंद्र कुमार निवासी रामनगर कॉलोनी सिडकुल लाइन के तौर पर रात में मरम्मत करने पहुंचा। उसी दौरान लाइन में करंट दौड़ गया और युवक की मौके पर ही मौत हो गई।


सूचना पर उसके स्वजन और ग्रामीण इकट्ठा होकर मौके पर पहुंच गए। उन्होंने शव को सड़क पर रखकर हंगामा शुरू कर दिया। हंगामे के काफी देर तक भी ऊर्जा निगम का कोई अधिकारी मौके पर नहीं पहुंचा। पुलिस ने इस बाबत निगम के अधिकारियों से संपर्क साधा। कुछ अधिकारियों का कहना था कि युवक उनका कर्मचारी ही नहीं है। इस पर स्वजनों का गुस्सा और बढ़ गया। कई घंटे हंगामे के बाद पुलिस ने जैसे-तैसे लोगों को समझा बुझाकर युवक का शव पोस्टमार्टम के लिए भिजवाया। सिडकुल थानाध्यक्ष लखपत बुटोला के अनुसार शव का पोस्टमार्टम कराया जा रहा है। फिलहाल कोई लिखित शिकायत नहीं मि


Popular posts from this blog

कोरोना ब्रेकिंग: उत्तराखंड में आज तक का सबसे बड़ा आंकड़ा 501 कोरोना संक्रमित मिले और 232 मरीज ठीक हुए, हरिद्वार में 171 नये केस मिले

निर्मला छावनी हरिद्वार मे कुंभमेला फंड से बनाया जा रहा रेलवे पुल आमजन के लिए सुविधा कम और कठिनाई ज्यादा पैदा करेगा, जानें पूरी खबर

जिलाधिकारी कार्यालय में सफाई कर्मचारियों के हितों को लेकर 22 बिंदुओं पर चर्चा