उत्तराखंड के पशु पालन राज्यमंत्री ने कहां औचक छापामारी कर अनियमितताएं पकड़ी

प्रदेश की मंत्री रेखा आर्य ने केंद्रीय औषधि भंडार पर छापा मारकर पकड़ी अनियमितताओं की जांच की बात कह


उत्तराखंड के पशुपालन राज्यमंत्री रेखा आर्य ने पशु चिकित्सा विभाग के जिला स्तरीय केंद्रीय औषधि भंडार में औचक छापेमारी कर कई अनियमितताएं पकड़ी हैं। राज्यमंत्री ने करीब चार घंटे तक दवाईयों के स्टॉक, बिल और तमाम रजिस्टरों को खंगाला। उन्होंने मामले में घोटाले की आशंका जताते हुए उच्च स्तरीय जांच कराए जाने की बात कही है। बुधवार सुबह करीब साढे दस बजे प्रदेश की पशुपालन राज्यमंत्री रेखा आर्य हरिद्वार रेलवे स्टेशन के सामने मायापुर रामलीला मैदान के पास बने पशु चिकित्सा विभाग के जिला स्तरीय केंद्रीय औषधि भंडार में औचक छापेमारी करने पहुंची। मंत्री को देख स्टोर प्रभारी और कर्मचारियों में हड़कंप मच गया। मंत्री ने स्टोर के दफ्तर में सुबह करीब 10.45 बजे से दवाईयों के बिल, स्टॉक रजिस्टरों की जांच करनी शुरू की। दोपहर करीब 2.30 बजे तक जांच की गई। मंत्री की छापेमारी में सामने आया कि जितनी दवाईयों के बिल दिए गए हैं। उतना स्टॉक भी नहीं मिला। निरीक्षण में पाया गया कि खरीदी गई दवाई अभी तक भी गोदाम तक नहीं पहुंची जबकि रजिस्टर में दवाईयों का पूरा रिकॉर्ड दर्ज दिखाया गया है। दवाई को रजिस्टर में दर्ज किया है। लेकिन लाभार्थियों को उनका वितरण ही नहीं हुआ और भुगतान कर दिया गया। उन्होंने मुख्य पशु चिकित्साधिकारी डॉ. बीसी कर्नाटक को भी मौके पर बुलाकर फटकार लगाई। जबकि इससे पहले औषधि भंडार प्रभारी विकास चैहान को भी लताड़ लगाई। मंत्री रेखा आर्य ने पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा कि औषधि भंडार में रजिस्टरों की जांच में कई अनियमितताएं सामने आई हैं। पशुओं के पेट में कीड़े मारने वाली समेत कई दवाईयों को लेकर यहां कोताही बरती जा रही है। पशुपालकों तक दवाईयां नहीं पहुंच पा रही है। पूरे रिकॉर्ड खंगाले जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि मामले की उच्च स्तरीय जांच कराई जाएगी। जिससे दूध का दूध और पानी का पानी हो जाए। जांच के बाद दोषी पाए जाने वालों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।


Popular posts from this blog

कल शनिवार और रविवार को लॉकडाउन में कौन - कौन संस्थान खुलेंगे ?, गाइडलाइन जारी

हरिद्वार आने वालो के लिए नई गाइडलाइन जारी, पर्यटकों को अनावश्यक रूप से ना रोका जाए - जिलाधिकारी

ब्रेकिंग न्यूज़ -कल से दुकानें( बाजार) प्रातः 8:00 बजे से सायं 8:00 बजे तक खुलेंगे