गाड़ी चालक द्वारा आत्महत्या के मामले में कौन हुआ लाइन हाजिर और कौन निलंबित ?

एसएसपी ने थानाध्यक्ष को किया लाइन हाजिर और तीन कांस्टेबलों को किया निलंबित


 गाड़ी चालक द्वारा आत्महत्या के मामले में एसएसपी ने थानाध्यक्ष को लाईन हाजिर करते हुए एक दरोगा और दो सिपाही को निलम्बित कर दिया है। एलसी बुटौला को नया थानाध्यक्ष बनाया गया है। मामला सिडकुल थाना क्षेत्र का है,क्षेत्र में एक ड्राइवर ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। मामले में एसओ को लाइन हाजिर करने के साथ ही दारोगा समेत तीन को सस्पेंड कर दिया गया है। एसएसपी ने आत्महत्या के इस मामले में लापरवाही सामने आने पर यह कार्रवाई की है। दरअसल, हरिद्वार जिले के सिडकुल थानाक्षेत्र में हाथरस(उत्तर प्रदेश) के ड्राइवर राम चरण ने ट्रांसपोर्ट के दफ्तर में संदिग्ध परिस्थितियों में फांसी लगाकर खुदकशी कर ली। बताया जा रहा है कि ड्राइवर में शनिवार रात पुलिस कंट्रोल रूम पर फोन कर यह आरोप लगाया था कि ट्रांसपोर्टर ने उसे बंधक बना लिया है और वह आत्महत्या करने जा रहा है। सिडकुल थाने के दो चेतक पुकिसकर्मियों ने फोन पर ड्राइवर से बात तो की, लेकिन वह मौके पर नहीं गए। सुबह ड्राइवर का शव फांसी पर लटका मिला। एसएसपी सेंथिल अबुदई कृष्णराज एस ने सिडकुल थानाध्यक्ष प्रशांत बहुगुणा को लाइन हाजिर कर दिया है। इसके साथ ही नाइट अफसर के तौर पर ड्यूटी पर रहे जेल चौकी प्रभारी मोहन कठैत और चेतक पुलिसकर्मी दीपक दानू और भरत नेगी को सस्पेंड कर दिया है। वही प्रशांत बहुगुणा के लाइन हाजिर होने के बाद सप्तऋषि चौकी प्रभारी एलसी बुटोला को सिडकुल का नया एसओ बनाया गया है। बुटोला की जगह पथरी से हाल ही में आये खेमेंद्र सिंह गंगवार को चौकी प्रभारी सप्तऋषि बनाया गया है। वहीं पुलिस लाइन से दरोगा मनोज सिरोला को सिडकुल थाने भेजा गया है। 


 


Popular posts from this blog

कोरोना ब्रेकिंग: उत्तराखंड में आज तक का सबसे बड़ा आंकड़ा 501 कोरोना संक्रमित मिले और 232 मरीज ठीक हुए, हरिद्वार में 171 नये केस मिले

निर्मला छावनी हरिद्वार मे कुंभमेला फंड से बनाया जा रहा रेलवे पुल आमजन के लिए सुविधा कम और कठिनाई ज्यादा पैदा करेगा, जानें पूरी खबर

जिलाधिकारी कार्यालय में सफाई कर्मचारियों के हितों को लेकर 22 बिंदुओं पर चर्चा