जटिल समस्या

       ...


         कैसे लायेंगें बाहर से फंसे प्रवासियों को


बाहर फंसे लोग अपने परिजनो को गुहार लगा रहे हैं कि उन्हें वहां से निकाल कर ले जाओ जिसके लिए लोग भागदौड़ करके पास बनवा रहे हैं और बाहर फंसे अपने परिवार के सदस्यों को लाया जा रहा है इस प्रक्रिया में क्वारटीन किये जाने का स्पष्ट नियम न पता होने से कईयों को परेशानी का सबब बन गया है एसा ही एक मामला नई बस्ती, खड़खड़ी क्षेत्र का है यहां रविन्द्र परमार(जोनी) नाम का ड्राइवर पंजाब से किसी व्यक्ति को लेने गया था बार्डर पर बकायदा उसकी स्क्रीनिंग आदि भी हुई थी 14 मई को वह सवारी लेकर लौटा था, अब उसे 5 दिन बाद होम क्वारटीन कर दिया गया है वह इस प्रश्न उठाते हुए कहता है कि यदि प्रशासन को संक्रमण का कोई शक था तो उसे उसी समय बताना चाहिए था दूसरे अगर ड्राइवरों को इस प्रकार 14 दिन के लिए क्वारटीन किया जायेगा तो कोई किसी को लेने कयों जायेगा?


Popular posts from this blog

कोरोना ब्रेकिंग: उत्तराखंड में आज तक का सबसे बड़ा आंकड़ा 501 कोरोना संक्रमित मिले और 232 मरीज ठीक हुए, हरिद्वार में 171 नये केस मिले

निर्मला छावनी हरिद्वार मे कुंभमेला फंड से बनाया जा रहा रेलवे पुल आमजन के लिए सुविधा कम और कठिनाई ज्यादा पैदा करेगा, जानें पूरी खबर

जिलाधिकारी कार्यालय में सफाई कर्मचारियों के हितों को लेकर 22 बिंदुओं पर चर्चा