लॉक डाउन में राम नाम द्वारा सेवा

लॉक डाउन में गरीबों की सेवा कर रहा है राम नाम विश्व बैक


देश में जब से कोरोना जैसी  महामारी ने विकराल रूप लिया है तभी से  बचने के लिए लॉक डाउन लागू किया गया है 


लॉक डाउन होने के बाद काम धंदे बंद होनेसे लोगों के सामने आर्थिक संकट आ खड़ा हुआ है। इस लिये लोगो के सामने भूखमरी की स्थिति उत्पन्न हो गई है।
जिसको देखते हुए श्रीराम नाम विश्व बैंक समिति ने  गरीबो के लिए  जनसेवा (नर सेवा, नारायण सेवा) आरंभ की है
जिसके अंतर्गत संस्था ने निर्णय लिया कि गरीब एवं जरूरतमंदों की जब तक संभव होगा तब तक उनकी मदद की जाएगी।
इसी को ध्यान में रखते हुए संस्था विगत 31 मार्च से अपने स्वयंसेवकों द्वारा जन जागरण अभियान चलाकर लोगों को कोरोनावायरस के प्रति जागरूक करने का कार्य कर रही है। लोगों के बीच जाकर उन्हें हैंड सेनीटाइजर, मास्क व भोजन सामग्री भी उपलब्ध करवाई जा रही है।


श्रीराम नाम विश्व बैंक समिति के राष्ट्रीय महासचिव पंडित सुमित तिवारी का कहना है कि शुरुआती चरण में तो कार्य करने में काफी दिक्कतों का सामना करना पडा लेकिन धीरे धीरे लोगों को सोशल डिसटेंस आदि का महत्व समझाया।
इस संकट कालीन दौर में लोगों को भुखमरी से उबारने के लिए संस्था ने वृहद स्तर पर जनसेवा अभियान चलाया। जिसके अंतर्गत संस्था की ओर से प्रतिदिन लगभग 1200 (एक हज़ार दो सौ) लोगों को भोजन वितरित किया जाता है। संस्था द्वारा अब तक लगभग 25,000 (पच्चीस हज़ार) से ज्यादा लोगों को राहत पहुंचाई जा चुकी है ।
इस अभियान में संस्था ने अपने पदाधिकारियों का सहयोग लिया। जिसमें मुख्य रूप से "मानस परिषद टोरंटो" के प्रमुख श्याम सुंदर कौशिक व उनकी धर्मपत्नी विजय श्री कौशिक सम्मलित हैं जो कि कनाडा में रहकर अपनी जन्मभूमि की संस्कृति व राम - नाम का  प्रसार - प्रचार कर रहे है।


उन्होने इस जनसेवा में महत्त्वपूर्ण योगदान देते हुए 2500 (Two Thousands & Five Hundred peoples) लोगों की भूख मिटाने का बीड़ा उठाया। साथ ही कनाडा में बसें भारतीय मूल के लोगों से भी जनसेवा कार्य मे सहयोग करने का आवाह्न किया।


संस्था के प्रचार मंत्री राजीव शर्मा (राजू गौड़) ने बताया कि श्री राम नाम विश्व बैंक समिति, हरिद्वार में गंगा घाटों पर फसें हुए श्रद्धालुओं के साथ साथ निम्न वर्ग व मध्यम वर्ग को भी भोजन व कच्चा राशन भी उपलब्ध करवाने का कार्य कर रही है। जिसमे सहयोग करके आप भी पुण्य के भागी बन सकते है। उन्होंने यह भी बताया कि जब तक देश मे लॉकडाउन हैतब तकअभियान निरंतर जारी है।


Popular posts from this blog

पंच नाम जूना अखाड़े की शाही पेशवाई मे भव्य झाँकियों, बैंड बाजों और हेलीकॉप्टर से फूल बरसाए

पीड़िता को न्याय दिलाने के लिए किसान कांग्रेस ने निकाला कैंडल मार्च

महानगर व्यापार मंडल मैं कुनबा बढ़ाया